After love marriage : chapter 5 Romantic love story in hindi

  • Romantic story in hindi

     Chapter 5 - Some stolen Love Moments!

  • रात का वक्त,
  • साइना राजवीर का कमरा,
  • राजवीर और साइना वहां पर अकेले हैं क्योंकि आर्यन इतने दिनों के बाद सभी से मिला है तो सब से बात करने के बाद वो अब सावी 
  • के साथ ही है क्योंकि अब वो जाग गई थी, और आर्यन उसके साथ 
  • ही खेल रहा है और राजवीर भी बस अभी आर्यन से
  •  मिलकर वापस रूम में आया है और उसने देखा कि साइना सोने के लिए बिस्तर ठीक कर रही थी।
  • राजवीर मुस्कुराते हुए उसकी तरफ आया और उसने पीछे से साइना को गले लगा लिया साइना थोड़ा सा चौंक गई लेकिन फिर राजवीर
  •  का टच और उसकी खुशबू पहचानते ही सैन एकदम रिलैक्स हो गई और साइना ने खुद को उसकी बाहों में एकदम ढीला छोड़ दिया 
  • और सीधे खड़े होकर उसने राजवीर की चेस्ट पर अपना सिर टिका लिया और अपनी आंखें बंद कर ली।
  • राजवीर ने साइना को इस तरह से नोटिस किया तो हलके से 
  • स्माइल करते हुए राजवीर ने उसके गालों पर किस किया और
  •  बोला, "आई लव यू साइना! आई लव यू सो मच मुझे नहीं पता कर शादी करके
  •  अगर तुम मेरी लाइफ में नहीं आई होती तो पता नहीं आज मेरी लाइफ का क्या होता, मैं कभी इतना खुश होता भी या नहीं?"
  • राजवीर की ऐसी बातें सुनकर साइना ने पीछे मुड़कर थोड़ी
  •  कन्फ्यूजन से उसकी तरफ देखा और बोली, "क्या हो गया आज एकदम अचानक से ऐसी बातें..."
  • साइना के इस तरह से अपनी तरफ देखने पर राजवीर ने भी उसकी आंखों में गहराई से देखा और बोला, "कुछ नहीं बस.. अभी आर्यन
  •  राइमा को लड़ते देखकर बहुत अच्छा लगा फिर मुझे याद आया कि हम तो कभी ऐसे लड़ाई नहीं करते ना?"
  • राजवीर की यह बात सुनकर साइना को हंसी आ गई लेकिन अपनी मुस्कुराहट दबाते हुए उसने राजवीर के गले में अपनी बहन डाली
  •  और उसकी तरफ देखते हुए बोली, "अच्छा जी तो आपको मुझसे लड़ाई करनी है?"
  • "नहीं, हमें तो मोहब्बत करनी है हमेशा की तरह..." - मुस्कुरा कर इतना बोलते हुए राजवीर अपना चेहरा साइना के चेहरे के एकदम
  •  नजदीक लाया और उसके होठों पर अपनी हॉट रखते हुए उसे एकदम डीपली किस करने लगा उसके फोटो का टच अपने होठों
  •  पर महसूस होते ही सायना की आंखें बंद हो गई और उसकी पकड़ राजवीर की गर्दन की चारों तरफ और ज्यादा कस गई और वह
  •  दोनों एकदम नजदीक आ गए और अब साइना भी उसे किस करने लगी थी राजवीर का हाथ साइना की कमर पर था !
  • एक दूसरे में खोए हुए वह दोनों ही बहुत ही प्यार से एक दूसरे के होठों को चूम रहे थे और कुछ देर बाद वह दोनों एक दूसरे से 
  • अलग हुए और उन्होंने एक दूसरे की आंखों में देखा जहां पर एक दूसरे के लिए मोहब्बत और चाहत साफ नजर आ रही थी।
  • राजवीर ने आगे आते हुए साइना के गाल पर किस किया फिर
  •  उसकी जाॅ लाइन से होते हुए उसकी गर्दन पर आ गया और इसी बीच साइना ने उसके कंधे को कसकर पकड़ लिया और उसकी
  •  गर्दन में अपना चेहरा छुपा लिया तो फिर राजवीर उसकी बैक और शोल्डर पर किस करने लगा।
  • राजवीर ने उसे वहां बेड पर लिटा दिया और उसके पूरे चेहरे को चूमने लगा उसके इस तरह से किस करने पर साइना को खुद के
  •  लिए उसका प्यार फुल हुआ और यह एहसास होते ही उसकी आंखों में आंसू आ गए और पूरे चेहरे पर प्यार भरी मुस्कराहट भी...
  •  राजवीर की बाहों में साइना वैसे भी हमेशा बहुत 
  • खुश महसूस करती है और सिर्फ राजवीर ही उसे खुशी दे सकता है और इस तरह एक
  •  दूसरे की एकदम नजदीक आते हुए वह दोनों पूरी तरह से एक दूसरे में खो गए और कुछ देर बाद जब किसी ने उनके कमरे का 
  • दरवाजा खटखटाया, तब एकदम ही वह दोनों एक दूसरे से दूर हुए और एक दूसरे की तरफ देखकर हंसने लगे और उन दोनों ने ही 
  • कपड़े नहीं पहने हुए थे तो राजवीर ने साइना से कहा, "तुम रुको, मैं देखता हूं..."
  • उसकी बात सुनकर साइना ने मुस्कुराते हुए धीरे से अपना सिर
  •  हिलाया और फिर अपना आधा चेहरा भी उसी कंबल में ढक लिया जिसमें वह अभी तक थी क्योंकि उसे बहुत ही शर्म आ रही थी इस
  •  तरह बेड में वह दोनों एक दूसरे के साथ थे और ठीक उसी वक्त किसी ने कमरे का दरवाजा खटखटा दिया लेकिन उसे पता है 
  • जरूर राइमा या आर्यन में से कोई सावी को लेकर आया होगा क्योंकि वह काफी देर से उन दोनों के पास ही थी।
  • कंबल से बाहर निकल कर राजवीर ने जल्दी से अपनी पैंट पहनी
  •  और फिर वह ऊपर टी-शर्ट पहना हुआ दरवाजे की तरफ बढ़ा और उसने अपने बाल ठीक किया, जब तक साइना ने भी अपने कपड़े
  •  पहन लिए और फिर राजवीर ने दरवाजा खोला तो वहां पर संजना खड़ी थी, सावी को गोद में लेकर और बोली, "मम्मी पापा को तो
  •  याद आई नहीं अपनी बेटी की लेकिन बेटी ने तो रो-रोकर घर सर पर उठा रखा है बड़ी मुश्किल से मेरी गोद में ही चुप हुई।"
  • राजवीर संजना को सफाई देते हुए बोला, "अरे नहीं वो... ये आर्यन के पास थी ना संजू, तूने तो देखा था आर्यन सावी को
  •  अपनी गोद में लेकर बैठा था और उसके साथ ही खेल रहा था तो फिर मैंने इसे वहां पर रहने दिया था।"
  • उसकी इस बात पर संजना भी मुस्कुरा कर बोली, "अरे भाई बस मजाक कर रही हूं और वह राइमा और आर्यन भाई इतना लड़ते हैं
  •  ना उनकी लड़ाई देखकर ही रोने लगी होगी क्योंकि आप दोनों तो कभी लड़ते नहीं हो इसलिए इसे आदत भी नहीं है तो मैं 
  • उनके पास से ले आई, भूख भी लगी होगी इसे... काफी देर हो गई ना, भाभी से बता दो।
  • कमरे के अंदर से साइना बोली, "हां हां ठीक है... संजू मैंने सुन लिया थैंक यू!"
  • उसके बाद राजवीर ने संजना से सावी को अपनी गोद
  •  में ले लिया और वो फिर से ही रोने लगी तो राजवीर ने कहा, "अच्छा बुआ को ज्यादा ही पहचानने लगी हो!"
  • राजवीर की इस बात पर संजना ने मुस्कुराते हुए सावी के गाल 
  • पर टच किया और उसकी तरफ देखकर उसे बुलाने लगी तो सभी फिर से संजना की तरफ देखकर मुस्कुराई और चुप हो गई।
  • उसके बाद संजना वहां से चली गई और राजवीर सावी को गोद में
  •  लेकर अंदर आ गया तब तक साइना ने भी अपने कपड़े पहन दिए थे और वो बेड पर बैठी हुई अपने खुले हुए बल समेत रही थी।
  • राजवीर ने सावी को साइना की गोद में दे दिया और साइना उसे फीड करवाने लगी और तभी राजवीर उसके सामने अपने हाथ 
  • पर सिर टिका कर लेट गया और बहुत ही प्यार से अपनी बीवी और बच्ची की तरफ ही देखने लगा।
  • साइना को अब तक इन चीजों की आदत पड़ चुकी है क्योंकि जब
  •  से सावी पैदा हुई है तब से जब भी वो सावी को फीड करती है या उसके साथ बोलती और खेलती है, तब राजवीर इसी तरह से ही
  •  उसके सामने बैठकर उन दोनों को साथ में देखा है क्योंकि उन दोनों में ही उसे अपनी पूरी दुनिया नजर आती है।
  • साइना को भी बहुत अच्छा लगता है जब राजवीर इस तरह 
  • से उन दोनों को प्यार भरी नजरों से देखा है और साइना के चेहरे पर भी एक प्यारी सी मुस्कुराहट आ जाती है।
  • अभी भी साइना उसकी तरफ देखकर मुस्कुरा रही है और अभी
  •  कुछ देर पहले उसकी बाहों में बिताए हुए उन लम्हों को भी याद करके शर्मा रही है, इस तरह ब्लश करते हुए उसका पूरा चेहरा
  •  एकदम लाल हो चुका है और राजवीर को भी सब समझ आ रहा है इसलिए उसने इस बारे में कुछ नहीं बोला लेकिन तभी उसे 
  • कुछ याद आया एकदम से और वह सीधा उठकर बैठते हुए बोला, "ओह शिट! टाइम क्या हो रहा, है 12:00 बज गए क्या?"
  • राजवीर को इस तरह एकदम से हड़बड़ाते देख साइना ने कन्फ्यूजन से पूछा, "क्यों क्या हो गया, 12:00 बजे ऐसा क्या करना है?"
  • "अरे वो विक्रम का बर्थडे है कल तो मैंने सोचा था कि मैं उसे
  •  सबसे पहले विश करूंगा 12:00 बजे, 
  • अभी 12:00 तो नहीं बजे ना?" - इतना बोलते हुए राजवीर ने पीछे की तरफ गर्दन घुमाई क्योंकि
  •  उसके पीछे वाली दीवार पर ही बड़ी सी वाॅल क्लॉक लगी थी और उसमें उसने टाइम देखा तो अभी 11 भी नहीं बजे थे।
  • "अच्छा विक्रम का बर्थडे है कल और अभी याद आया आपको वैसे अभी 11 भी नहीं बजे हैं, और टाइम है आपके पास... आराम से
  •  लंबा चौड़ा सा नोट लिख लीजिए आपको तो वैसे भी आदत है नोट लिखने की..." - साइना ने उसकी तरफ देखकर कहा तो राजवीर
  •  धीरे से अपना सिर हिलाते हुए बोला, "सारे लोगों के लिए नहीं, बहुत ही स्पेशल लोगों के लिए ही स्पेशल नोट लिखता हूं मैं बस..."
  • "हां हां पता है मुझे आपके वह स्पेशल नोट्स सिर्फ स्पेशल लोगों
  •  के लिए ही होते हैं और मेरे पास तो कितने सारे हैं मैसेज में भी और स्टिकी नोट्स पर भी, मैंने ना सारे संभाल कर रखे हुए हैं.. मुझे
  •  बहुत रोमांटिक लगता है नहीं तो आजकल 
  • कहां किसी के पास इतना टाइम होता है किसी के लिए टाइम निकाल कर कुछ भी लिखे!" 
  • - साइना ने बहुत ही प्यार से राजवीर की तरफ देखते हुए कहां और राजवीर को यह बात अच्छे से पता है कि साइना इन सारी छोटी-
  • छोटी चीजों में ही बहुत ही स्पेशल फील करती है इसीलिए वह उसके लिए यह सारे एफर्ट करता रहता है।
  • "हां पता है मुझे और इसीलिए तुमने भी तो अपनी डायरी पुरी मेरे
  •  नाम से ही भर रखी हुई है स्पेशल शादी के बाद से शायद ही कोई ऐसा पेज होगा जिस में तुमने मेरा नाम ना लिखा हो।" - राजवीर 
  • ने एकदम ही यह बात बोली तो साइना इधर-उधर देखती हुई उस से नज़रें चुराने लगी और बोली, "राज आप... आपने मेरी 
  • डायरी क्यों पढ़ी, मैं उसे ना अब से लॉकर में रखूंगी और फिर चाबी अपने पास..."
  • साइना की बात सुनकर राजवीर हंसने लगा और बोला, "हां हां
  •  ठीक है उसके लिए ना मैं अलग से लाकर
  •  बनवा दूंगा रूम में तुम आराम से रखना वैसे भी किसी खजाने से कम थोड़ी ना है, और कितना
  •  कुछ ट्रेजर किया है उस में तुमने मेरे बारे में... मुझे लेकर जो कुछ लिखा है वह सब तो शायद मैं खुद भी नहीं जानता अपने बारे में..."
  • साइना ने मुंह फुलाते हुए कहा, "अब क्या फायदा, कहीं भी छुपा
  •  कर रखने से, अब तो आपने पढ़ ही लिया है बट ये बहुत बैड मैनर्स होते हैं राज आपको पता है ना?"
  • उसने ऐसा किया तो राजवीर ने बहुत ही प्यार से उसके गाल खींचे क्योंकि प्रेगनेंसी के बाद से उसके गाल काफी मोटे-मोटे से हो 
  • गए हैं और वो राजवीर को पहले से भी और ज्यादा क्यूट लगती है खासकर जब इस तरह से नाराजगी में मुंह फुलाती है।
  • इसके बाद राजवीर ने कुछ सोचते हुए कहा कहा, "साइना, कल ना हम सब श्रेया और विक्रम के यहां चलते हैं विक्रम के बर्थडे 
  • पर उसे सरप्राइस देने क्योंकि मुझे पता है वह कोई भी पार्टी तो देगा
  •  नहीं, एक नंबर का कंजूस है और ऊपर से उसे पार्टी वार्टी का इतना शौक भी नहीं है।"
  • "हां, ठीक है मैं भी श्रेया से काफी टाइम से मिली नहीं हूं, और सरप्राइज देते हैं आप पहले से मत बताइएगा तो वो लोग ज्यादा
  •  खुश हो जाएंगे।" - साइना भी उसकी बात पर अपना आइडिया देते हुए बोली तो राजवीर ने हां में अपना सिर हिलाया और 
  • फिर वह अपना मोबाइल निकाल कर उस पर विक्रम के लिए बर्थडे नोट लिखने लगा।
  • दूसरी तरफ;
  • पाखी अपना सारा सामान लेकर अपने रूम में आई और उसका यह रूम बहुत ही बड़ा है जो कि शेखावत मैनसन में उसे
  •  मिला है और उसकी मासी ने उससे कहा है कि अब से वह यहां पर ही रहेगी उन सब के साथ...
  • कमरे में आने के बाद पाखी ने चारों तरफ पूरे कमरे को बहुत ही
  •  ध्यान से देखा और फिर सारे सामान को उसके बाद उसने अलमारी खोली और अपना सारा सामान सेट करने के बाद बाकी कमरे 
  • की बालकनी में आकर खड़ी हो गई और आगे उसकी लाइफ में क्या होने वाला है इस बारे में सोचने लगी।
  • यहां पर दिल्ली आने से पहले उसने कई सारी बड़ी कंपनी में
  •  इंटर्नशिप के लिए अप्लाई कर दिया था लेकिन अभी तक उनमें से किसी भी एक का रिप्लाई तक नहीं आया है इस बात को लेकर
  •  वह थोड़ी टेंशन में है क्योंकि भले ही उस के 
  • साथ यह सारे लोग इतने अच्छे हैं लेकिन हमेशा के लिए वह इस तरह से तो नहीं रह सकती
  •  ना उसे अपना भी बहुत कुछ करना है और इसके लिए उसने अभी से ट्राई करना शुरू कर दिया है क्योंकि शेखावत परिवार के
  •  लोगों के इतने अच्छे बर्ताव को वह टेकन फॉर ग्रांटेड नहीं लेना चाहती।
  • पाखी के अंदर बहुत ही ज्यादा सेल्फ रिस्पेक्ट है और
  •  वह बहुत ही एंबिशियस लड़की है और जल्द से जल्द अपना अच्छा करियर भी बनना चाहती है।
  • To Be Continued...
  • सॉरी गाइस कल तबीयत ठीक नहीं थी इसलिए कल रात एपिसोड नहीं आ पाया क्योंकि हम लिखी ही नहीं पाए सर दर्द की वजह से
  •  इसलिए आज डबल एपिसोड आएगा एक ही और
  •  इसके बाद दूसरा भी आपको कुछ घंटे बात करने को मिल जाएगा लेकिन फिलहाल
  •  इस पर कमेंट करें और इस स्टोरी को आप लोग प्लीज शेयर भी करिए।

  • Ch 6 - Anger waala Love !

  • रात के लगभग 11:30 बज रहे हैं और पूरे‌ शेखावत मैनसन में
  •  ज्यादातर कमरों की लाइट बुझ चुकी है और वह सारे लोग ही सो गए हैं यहां तक हाॅल की भी लाइट बंद है और पूरे घर में एकदम
  •  शांति है, सिर्फ एक कमरा छोड़कर और वह कमरा है हमारे आर्यन और राइमा का...
  • "बस करो यार रिमी और कितना मारोगी तुम मुझे, सच में वापस
  •  ही चला जाऊं क्या मैं?" - आर्यन अपने चेहरे के आगे एक तकिया लगाता हुआ बोल जबकि उस के सामने बेड की दूसरी साइड पर
  •  खड़ी हुई राइमा ने उसके ऊपर दूसरी तकिया फेंक कर उसे मेरी और फिर से दुसरा कुशन उठाकर उसकी तरफ ही फेंकने लगी।
  • "हां... हां चले जाओ... चलो निकलो अभी यहां से, भागो... किसी ने नहीं बुलाया तुम्हें, किसी ने याद भी नहीं किया इसलिए जाओ यहां
  •  से मुझे मुझे नहीं सुननी तुम्हारी कोई भी बात और तुम्हारे साथ रहना भी नहीं है, जहां पर तुम अभी तक थे वहीं जाओ!" - राइमा 
  • ने वही सामने खड़े होकर चिल्लाते हुए इतना बोला और अपने हाथ में पड़ा हुआ वह कुशन फिर से आर्यन की तरफ फेंक दिया जिसे की
  •  आर्यन ने कैच कर लिया और उसका एकदम बेचारा सा
  •  मुंह बन गया क्योंकि उनका वह पूरा कमरा एकदम जंग का मैदान बना हुआ था।
  •  पूरा बिस्तर सारे तकिया कुशन और बाकी सारा छोटा-मोटा 
  • सामान वहां जमीन पर ही फैला हुआ था और शायद 
  • ही कोई ऐसा सामान बचा होगा जि,से राइमा ने आर्यन को फेंककर ना मार हो लेकिन
  •  आर्यन इधर-उधर भाग कर उसके गुस्से और उसके फेंके हुए सामानों से बचने की पूरी कोशिश कर रहा है।
  • आर्यन ने इस तरह बेचारा सा मुंह बनाकर उसकी बात का जवाब देते हुए कहा, "ऐसे भगाओगी ना तो फिर सच में चला जाऊंगा
  •  और कभी फिर वापस भी नहीं आऊंगा, देखो कैसे ट्रीट करती हो तुम मुझे, अब तुम्हारा हस्बैंड हूं थोड़ी तो रिस्पेक्ट..."
  • "रिस्पेक्ट... हां, इधर आओ करती हूं ना तुम्हारी मैं पूजा... नहीं आरती उतारती हूं तुम आओ तो इधर ज़रा... और तुम्हारी हिम्मत
  •  कैसे हुई, आर्यन! वहां पर जाकर मुझे भूल जाने की अब बड़ा याद आ रहा है कि तुम हस्बैंड हो, तब तुम्हें याद नहीं आया तुम्हारी कोई
  •  वाइफ भी है।" - राइमा गुस्से में आर्यन की तरफ ही आई तो आर्यन मुझे ऐसे गुस्से में देखकर एकदम डरी हुई शक्ल के साथ उस जगह
  •  से पीछे होता हुआ अपनी सफाई में बोला, "अरे यार रुको... रुको मेरी बात तो सुनो, और मैं कब तुम्हें भूल गया था ऐसा क्यों
  •  लग रहा है तुम्हें और इतना क्या नाराज़ हो रही हो, ज़रा सा खुश होने का नाटक ही कर लेती यार! मैं इतने दिन के बाद वापस 
  • आया हूं और तुम हो कि पता नहीं किस बात का गुस्सा निकल रही हो मुझ मासूम पर..."
  • "आर्यन तुम और मासूम... प्लीज़ जैसे कि मैं तुम्हें जानती ही नहीं कि ऐसे भोला सा चेहरा बनाओगे और मैं सब कुछ भूल जाऊंगी,
  •  एक तो तुमने मुझसे ठीक से कॉल पर बात नहीं कि पिछले तीन
  •  दिनों से और मैंने जो कॉल मैसेज किया उसका भी रिप्लाई नहीं किया बताओ... उसके बाद तुम्हें लगता है कि तुम ऐसे अचानक 
  • से यहां आओगे तो मैं स्वागत में तुम्हारे लिए आरती का थाल लेकर खड़ी रहूंगी, जाओ अब मुझे भी तुमसे बात नहीं करनी।"
  • राइमा ने आखिर अपने मन में दबी हुई पूरी बात आर्यन के सामने कह दिया और इतना बोलकर वह अपने हाथ सामने की तरफ
  •  बांधते हुए दूसरी तरफ मुंह फेर कर गुस्से में वही बेड पर बैठ गई और अब उसकी पीठ आर्यन की तरफ है।
  • उसकी यह बात सुनकर आर्यन को अब समझ आया कि वो उस पर इतनी ज्यादा नाराज किस लिए है क्योंकि पिछले दो-तीन दिनों से
  •  उनकी कोई बात ही नहीं हुई थी कॉल पर और तब से ही वह इतना परेशान थी उसे लेकर और फिर वो अचानक से ऐसे आ गया राइमा
  •  उसे देखकर बहुत ही खुश हुई और इमोशनल भी जो कि आर्यन को दरवाजे पर ही दिख गया था लेकिन साथ ही वै उस पर नाराज भी
  •  थी और इतनी देर के बाद अकेले में अभी इस तरह ही उसे अपनी नाराज़गी उस पर निकलने का मौका मिला।
  • लेकिन इतनी देर से उस पर अपना गुस्सा निकलती हुई वो भी अब
  •  थक गई थी इसलिए ही नाराजगी दिखाते हुए उससे मुंह फेर कर राइमा अब वहां पर ही बैठ गए और आर्यन ने उसे ऐसे एकदम से
  •  ही शांत होते देखा तो वह एकदम दबे पांव उसकी तरफ आया और फिर पीछे से ही राइमा की कमर में हाथ डालते हुए आर्यन ने उसे
  •  पूरी तरह से अपनी बाहों में भर लिया और अपनी ठुड्ढी उसके कंधे पर टिकाते हुए बोला, "अच्छा तो इसलिए इतना नाराज हो तुम
  •  और इसलिए ही यह सारा गुस्सा मुझ पर निकल रहा है 
  • लेकिन मेरी बात तो सुन लेती कम से कम पहले... वो सब ना मैंने जानबूझकर किया
  •  वह तुम्हें सरप्राइज देने के लिए ही मैं इतना एक्साइटेड था ना कि अगर तुमसे बात करता ना किसी न किसी टाइम मैं बता देता कि मैं
  •  कब वापस आ रहा हूं बस इसीलिए मैंने तुम्हारी कॉल रिसीव नहीं की, बिलीव मी और कोई बात नहीं थी मुझे लगा था कि ऐसे
  •  अचानक मुझे सामने देखकर तुम खुश हो जाओगी लेकिन मुझे
  •  क्या पता था कि तुम बात ना होने को लेकर इतनी परेशान हो जाओगी।"
  • अभी कुछ घंटे पहले ही जब वह दोनों दरवाजे पर इस तरह से एक दूसरे के गले लगे थे और तब भी एक दूसरे से दूर होने का मन नहीं
  •  कर रहा था और उसके बाद से अब आर्यन ने राइमा को इस तरह से पीछे से गले लगाया और फिर उसके गाल पर हल्के से किस
  •  करता हुआ उसे यह सारी बात बताने लगा राइमा ने
  •  हलके से अपनी आंखें बंद करके दोबारा से खोली और फिर आर्यन के हाथ पर
  •  अपना हाथ रखते हुए उसे कसकर पकड़ लिया और उसकी पूरी बात सुनने लगी।
  • आर्यन ने जैसे ही अपनी बात खत्म की राइमा आगे बोली, "यही तो बात है आर्यन तुम्हें कुछ पता ही नहीं होता कि मैं किस तरह से
  •  सोचती हूं, तुम सारी चीज अपने पॉइंट ऑफ व्यू के हिसाब से ही सोच लेते हो, और तुम्हें सच में ऐसा लगता है कि मैं तुम्हें यहां देख
  •  कर खुश नहीं हूं यहां अपने पास... तुम सोच भी नहीं सकते इन 6 महीने में मैंने तुम्हें कितना मिस किया है मैं खुद भी नहीं सोचा था
  •  कि तुम्हारे बिना एक एक पल काटना मेरे लिए इतना मुश्किल हो जाएगा और दूसरी तरफ मुझे ऐसा लगता था तुम्हें वहां अपने 
  • पुराने दोस्तों और कॉलेज के साथी उन सब के बीच मेरी याद ही नहीं आती होगी तब ही तो तुम मुझे कॉल नहीं करते थे। 
  • राइमा की ये बात सुनकर आर्यन ने एक गहरी सांस ली और फिर राइमा का चेहरा अपनी तरफ घूमते हुए उसे बेड पर पैर ऊपर
  •  करके बिठाया और खुद उस का हाथ पकड़ कर उस के सामने ही बैठ गया।
  • उसी तरह राइमा का हाथ थामे हुए आर्यन उसकी आंखों में देखकर
  •  बोला, "रिमी! तुम्हें सच में ऐसा लगता है कि मुझे तुम्हारी याद नहीं आती थी और कब बात नहीं कि मैं तुमसे जब से मैं गया था रोज
  •  ही तो वीडियो कॉल और ऑडियो कॉल पर भी घंटों बात करता था लेकिन वहां और यहां के टाइमिंग्स में इतना फर्क होता है ना
  •  इसीलिए कभी-कभी कम बात हो पाती थी बट बिलीव मी मैं एक पल के लिए भी तुम्हें नहीं भूला और बाद में मैंने तुम्हारे लिए ही तो
  •  यह सरप्राइस प्लान किया था वापसी के वक्त क्योंकि मैं बता कर आता तो मुझे फिर वैसा रिएक्शन थोड़ी ना मिलने तुम्हारा जो
  •  दरवाजे पर देखने को मिला और मुझे पता है तुम बहुत खुश हो लेकिन तुम्हारी यह नाराज़गी वह भी कबूल है मुझे पूरी तरह से...
  •  और मैं कभी तुम्हें भूल सकता हूं क्या आई लव यू सो सो सो मच रिमी और यह बात मैं सिर्फ बोलने के लिए नहीं कहता।"
  • इतना बोलते हुए आर्यन ने थोड़ा सा आगे जाकर राइमा के माथे 
  • पर बहुत ही प्यार से किस किया, आर्यन की बातें और उसका यह प्यार भरा कन्फेशन सुनकर प्यारी मुस्कुराहट आ गया उसकी सारी
  •  नाराजगी भी जैसे एकदम ही दूर हो गई और वो भी थोड़ा सा आगे आकर आर्यन की गोद में बैठते हुए उसके गले से लग गई 
  • और उसने आर्यन की पीठ और कमर पर अपने हाथ रखते हुए उसे कसकर पकड़ लिया।
  • उसकी कमर और कंधे पर हाथ रखते हुए आर्यन ने भी उसे
  •  खींचकर अपने एकदम करीब कर लिया और उसकी गर्दन अपना चेहरा छुपा लिया और वह दोनों काफी देर तक इसी तरह 
  • एक दूसरे के गले लगा कर बैठे रहे और एक दूसरे के जज्बातों को महसूस करते रहे।
  •  कुछ देर बाद राइमा ने बोला, "मैं भी तुमसे बहुत बहुत बहुत प्यार करती हूं आर्यन! प्लीज अब मुझे छोड़ कर कहीं भी मत जाना
  •  शादी के बाद से हमने बिल्कुल भी टाइम स्पेंड नहीं किया एक साथ..."
  • "हां पता है मुझे, सिर्फ एक हफ्ते बाद ही तो जाना पड़ गया था 
  • और हमारी तो फर्स्ट नाइट भी अभी पेंडिंग है इसलिए अपनी सेक्सी ब्यूटीफुल वाइफ के साथ सुहागरात मनाए बिना तो मैं उसे छोड़क
  •  अब कहीं नहीं जाने वाला तो बताओ फिर 
  • क्या इरादे हैं आज रात के लिए..." - आर्यन ने बहुत ही शरारत से यह बात बोलते हुए एकदम
  •  ही राइमा की गर्दन पर किस किया तो वो एकदम ही सिहर गई और उसके पूरे बदन में एक तेज करंट जैसा दौड़ गया, उसने अपना
  •  चेहरा आर्यन के चेहरे के सामने किया और हल्के से उसके शोल्डर पर मारती हुई बोली, "शट अप आर्यन! मैं वो बात नहीं बोल रही 
  • थी और वैसे भी तुम थके नहीं हो क्या? रेस्ट कर लो पहले... स्पेशल फर्स्ट नाइट सेलिब्रेशन के लिए एनर्जी भी तो होनी चाहिए ना?"
  • राइमा ने बहुत ही सिडक्टिव आवाज में आर्यन के कान के पास
  •  अपने होंठ ले जाते हुए यह बात कही और जाने अनजाने उसके होंठ आर्यन के कानों से टच भी हो रहे थे।
  • इस तरह राइमा के होंठ अपने कानों से टच होने की वजह से 
  • आर्यन को भी अपनी पूरी बॉडी में एक सेंसेशन फील
  •  हुई और उसे ऐसा लगा जैसे कि वो अभी टर्न ऑन हो जाएगा इसलिए उसने अपनी
  •  आंखें बंद करते हुए अपने दोनों हाथों की कसकर मुट्ठियां बांध ली और खुद को पूरा कंट्रोल करने की कोशिश करने लगा।
  •  "ओह स्टाॅप इट रिमी! ये तुम मना कर रही हो या फिर इनवाइट? और हां थोड़ा सा थका हुआ ज़रूर है, लेकिन एनर्जी कितनी है
  •  कहो तो अभी दिखा दूं?" - राइमा के दोनों
  •  कंधे पकड़ कर उसका चेहरा अपने सामने करते हुए आर्यन ने उसकी आंखों में देखकर कहा...
  • "नहीं... नहीं किसी को भी इनवाइट नहीं कर रही हूं मैं, चलो सो जाओ पहले ही देखो 12:00 बज चुके हैं, सो गुड नाइट!" -
  •  इतना बोलते हुए राइमा ने हल्के से आर्यन के होठों पर किस किया और तुरंत ही मुस्कुराते हुए बेड पर सीधा लेट गई।
  • आर्यन को उस अचानक वाली किस की उम्मीद नहीं थी लेकिन फिर भी उसे वह गुड नाइट किस मिल गई तो वह बहुत ही खुश हो गया
  •  और तुरंत ही राइमा की कमर में हाथ डालकर उसे पकड़ता हुआ कडल करके उसके एकदम करीब लेट गया और आर्यन का हाथ
  •  अपने ऊपर महसूस होते ही राइमा भी उसकी तरफ ही घूम गई उन दोनों का चेहरा आमने-सामने था और राइमा ने भी आर्यन को
  •  कसकर पकड़ लिया और खुद उसके एकदम नजदीक आ गई और उसके सीने में अपना सर छुपाते हुए उसके एकदम करीब आकर
  •  राइमा बहुत ही सुकून से आगे बंद कर दिया और यह सुकून आज उन दोनों को ही 6 महीने बाद मिल रहा है।
  • अभी उन दोनों के बीच चीज फिलहाल के लिए तो क्लियर हो गई है और वह दोनों ही एक दूसरे की बाहों में बहुत ही खुश है कुछ ही
  •  देर में उन दोनों को नींद आ गई और उसी 
  • तरह एक दूसरे की आगोश में वह दोनों एक-एक करके सो गए और आज कितने दिनों के बाद
  •  राजमा के चेहरे पर वह प्यारी सी मुस्कुराहट है जो पिछले कुछ दिनों में तो कहीं खो सी गई थी
  • To Be Continued...
  • हमारे राजवीर साइना का हो गया रोमांस और आर्यन राइमा का
  •  भी अब नेक्स्ट एपिसोड में आपको विक्रम श्रेया का भी मस्त वाला रोमांस देखने को मिलेगा तो अब इसके अलावा कौन बचा 
  • अभिषेक और संजना हां अगर आप लोग उनका भी
  •  देखना चाहते हैं तब एक एपिसोड में छोटा सा उसे सीन उनका भी रोमांस लिख सकते हैं
  •  लेकिन अभी नहीं वह थोड़े दिन के बाद बट अगर 8-10 लोग
  •  बोलेंगे संजना अभिषेक के रोमांस के लिए तब ही हम उसे दिखाएंगे नहीं
  •  तो फिर आप समझ लो अपने हिसाब से... बाकी अटेंशन अटेंशन स्टोरी में अब बहुत कुछ होने वाला है।

Previous Post Next Post