After Love Marriage : Chapter 3 Romantic love story in hindi


  •  Chapter 3 - Full of Surprises?

  • अगला दिन;
  • राइमा को पूरा 1 दिन बीत गया इंतजार में लेकिन आज भी आर्यन ने उसे कॉल बैक नहीं किया और अब तीन दिन हो चुके हैं जब
  •  उसकी आखिरी बार आर्यन से बात हुई थी और इस बात को लेकर अब वह बहुत ही ज्यादा परेशान है लेकिन अब वो इस बारे में
  •  साइना से भी यह बात नहीं कर पा रही है क्योंकि साइना ने उसे समझाने की कोशिश की और वो पता नहीं क्यों
  •  सब कुछ समझना ही नहीं चाह रही है और उसे जो सोचना है बस वही सोच कर बैठी हुई है।
  • संजना के फैशन शो वाली बात शेखावत मैनसन में
  •  सबको ही पता चल गई थी और यह खुशखबरी वह घर में बाकी सब को सुनने के लिए घर पर भी आई हुई है।
  • उसे खुश देखकर संजना के पापा बहुत ही ज्यादा खुश हैं और
  •  उसके साथ ही बाकी सब भी लेकिन सिर्फ राइमा ही अपने में खोई हुई सी लग रही है।
  • वह सब के बीच बैठी तो है लेकिन उसका ध्यान कहीं और ही है तभी इतनी देर से संजना उसका नाम लेकर बुला रही
  •  लेकिन फिर भी उसने संजना की तरफ नहीं देखा और ना ही उसकी बात का कोई जवाब दिया ‌
  • "भाभी बुलाओ ना, अपनी बहन को मुझे तो इग्नोर कर रही है, मैडम!" - संजना ने राइमा के साइड में बैठी हुई साइना से कहा तो
  •  उसकी बात पर साइना हल्का सा मुस्कुराई और बोली, "संजना ! वह भी भाभी ही है अब तुम्हारी और थोड़ी सी परेशान है वह भी
  •  तुम्हारे आर्यन भाई की वजह से, बहुत परेशान करता है वो मेरी राइमा को।"
  • "अरे भाभी! आर्यन भाई का तुम्हारा नाम मत लो वह तो मुझे भी बहुत परेशान करते हैं और बाकी सब को भी, मुझे तो लगता है पूरे
  •  घर में शायद ही ऐसा कोई होगा जो उनसे परेशान ना रहता हो... क्यों पापा भाई ठीक कहा ना मैंने?" - संजना ने अपने पापा और
  •  भाई की तरफ देखकर उनसे हामी भरवाते हुए कहा तो उसकी बात पर सभी हंसने लगे क्योंकि आर्यन और संजना की लड़ाई के
  •  बारे में तो सब ही जानते हैं और आर्यन भले ही अभी लंदन में है लेकिन फोन काॅल पर भी वो दोनों लड़ाई करना नहीं भूलते।
  • यही सारी बातें करते हुए वहां पर सभी हंस बोल रहे हैं लेकिन 
  • राइमा वहां पर इस तरह खोई हुई सी बैठी है और 
  • उसने अब तक किसी की बात का कोई जवाब नहीं दिया तो साइना ने उसके कंधे पर हाथ
  •  रखा और कहा, "राइमा! क्या सोच रही है तू देख संजू तुझे इतनी देर से बुला रही है और तू है कि..."
  • "सॉरी दी वह मैं बस... वैसे क्या कह रही हो संजू बताओ ना क्या-
  • क्या प्लान कर लिया है तुमने अपने फैशन शो के लिए?" - राइमा ने इस बार थोड़ा सा इंटरेस्ट दिखाते हुए पूछा तो संजना को भी
  •  अच्छा लगा और वो आगे जाकर उसके साइड में ही बैठ गई और फिर अपने मोबाइल फोन में एक फाइल ओपन करके उसे अपने 
  • बनाए हुए रफ डिजाइन दिखाने लगी और राइमा भी काफी इंटरेस्ट लेकर वह सारे डिजाइन भी देख रही है।
  • इस बीच राइमा का ध्यान आर्यन की तरफ से थोड़ा डाइवर्ट हुआ
  •  लेकिन साइना उसकी तरफ देख कर समझ रही है कि ज़रूर ऐसी ही कोई बात है लेकिन अभी हंसी-खुशी का माहौल देखकर
  •  साइना ने इस बात का जिक्र नहीं किया और सोचा कि वो पहले इस बारे में राजवीर से बात करेगी हमेशा की तरह...
  • दूसरी तरफ;
  • एक बड़ी सी बिल्डिंग में मौजूद दो कमरे का अपार्टमेंट;
  • एक लंबे चौड़े हैंडसम दिखने वाले आदमी, जिसकी सिर्फ पीठ और पीछे का सर का हिस्सा नजर आ रहा है और उसने वाइट शर्ट 
  • पहनी हुई है, जिसके ऊपर के तीन बटन खुले हुए 
  • हैं और उसकी चेस्ट नजर आ रही है, उस व्हाइट शर्ट के साथ ही उस आदमी ने लाइट
  •  ब्राउन कलर की पैंट और उस पैंट सूट के कलर का कोट उसने अपने हाथ में पकड़ा हुआ है और उसी हाथ में एक ब्रीफकेस भी है।
  • दूसरे हाथ से उसने दरवाजे का हैंडल पकड़ा और उसे घुमाते हुए
  •  अंदर की तरफ उस अपार्टमेंट का दरवाजा खोला और फिर बहुत ही दबे कदमों से चलते हुए वह अपार्टमेंट की तरफ अंदर आया और
  •  उसने इस बात का पूरा ध्यान रखा कि उसे चलने में जरा सी भी आवाज ना हो इसलिए उसने दरवाजे के पास ही अपने जूते उतार
  •  दिया और सिर्फ मोजे पहने हुए वो वहां के टाइल्स वाले चिकने फर्श पर चलता हुआ अपार्टमेंट के अंदर आया।
  • उस आदमी ने चारों तरफ नजर घुमा कर देखा लेकिन उसे वहां पूरी
  •  जगह एकदम खाली दी थी और कोई भी नजर नहीं आया तो वह इस तरह दबे पांव से थोड़ा और आगे बड़ा और उसने किचन की
  •  तरफ बढ़ते हुए उस तरफ देखा तो ऐसा लग रहा था जैसे की किचन में कोई तूफान आकर गया हो, वहां पर ज्यादातर डिब्बे और
  •  सामान किचन काउंटर पर ही बिखरा हुआ पड़ा था 
  • और नीचे पूरे फ्लोर पर सफेद सफेद कुछ बिखरा हुआ है और उन सब के बीच एक लड़की
  •  परेशान सी खड़ी है, उसके भी पूरे चेहरे पर काफी सारा आता और बाकी सामान लगा हुआ है उसके बाल बिखरे हुए हैं और मुंह बना
  •  हुआ है, वो कभी सामने रखे हुए ग्लास बाउल की तरफ देख रही है तो कभी अपने हाथ में पड़े हुए व्हिसकर की तरफ...
  • इसके अलावा उसने पीछे मुड़कर अपने पीछे रखे हुए माइक्रोवेव
  •  को भी एक नजर देखा और फिर एक गहरी सांस भरी उसके बाद वह दोबारा प्लेटफार्म की तरफ घूमी और सामने पड़ी हुई चीजों में से
  •  कुछ उठाने ही वाली थी कि तभी उसे अपनी कमर के ईर्द गिर्द किसी की मजबूत बांहो का एक घेरा महसूस हुआ तो उसका दिल एकदम
  •  ही तेजी से धड़का क्योंकि इस टच को वह बहुत ही अच्छी तरह से पहचानती है इसलिए वो टच फील होते ही उसके चेहरे पर एक
  •  प्यारी मुस्कुराहट आ गई और अपनी कमर पर रखे हुए उस बाहों के घेरे पर अपना हाथ रखते हुए उस लड़की ने भी वो हाथ पकड़ लिए।
  • "हां, तो आज कौन सा मिशन फेल हुआ?" - उसी तरह से 
  • मुस्कुराते हुए उस लड़के ने पहले उसे लड़की के गाल पर किस किया और फिर यह सवाल किया।
  • "विक्रम प्लीज! कल आपका बर्थडे है ना, तो बस मैं आपके लिए
  •  खुद केक बनाना चाहती थी लेकिन मैंने आज से पहले ना कभी भी बेकिंग नहीं की तो बस मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा और आप हो
  •  कि मेरा मजाक उड़ा रहे हो, बाकी सब तो बना लेती हूं ना मैं?" - श्रेया ने एकदम बच्चों की तरह मुंह बनाते हुए कहा और अपनी
  •  कमर से उसका हाथ हटाने की कोशिश करते हुए वो पीछे की तरफ मुड़ी तो विक्रम का चेहरा उसके चेहरे के एकदम सामने और
  •  नजदीक आ गया तो उसे इतना करीब पाकर श्रेया को अपनी सांसे रूकती हुई सी महसूस हुई।
  • विक्रम ने की कमर से हाथ नहीं हटाया और उसकी तरफ मुस्कुरा
  •  कर देखा क्योंकि उसकी नजदीकी से श्रेया का इस तरह से एकदम हड़बड़ा जाना उसे बहुत ही अच्छा लगता है क्योंकि श्रेया 
  • ज्यादातर तो इस तरह का बर्ताव नहीं करती लेकिन जब कभी भी अचानक से ऐसा होता है तो वह इस तरह घबरा जाती है।
  • श्रेया को ऐसी हालत में देखकर विक्रम बहुत ही इंजॉय करता है और अभी भी वह उसकी सिचुएशन एंजॉय कर रहा है उसने श्रेया की
  •  कमर में हाथ डालते हुए उसे अपने और नजदीक खींचते हुए कहा, "मैं कोई मजाक नहीं उड़ा रहा, मैं तो बस पूछ रहा था और तुम्हें
  •  कोई जरूरत नहीं है ये सब करने की, वैसे भी तुम थकी हुई होगी ना रेस्ट कर लो और मेरे बर्थडे पर कुछ और प्लान करते हैं।"
  • इतना बोलते हुए विक्रम ने हल्का सा झुक कर श्रेया की नेक किस किया और श्रेया के चेहरे पर एक प्यारी सी मुस्कुराहट आ गई।
  • उसे विक्रम का इस तरह से किस करते हुए प्यार जताना बहुत ही पसंद है और विक्रम की भी आदत है, वह इस तरह से कभी भी
  •  श्रेया के कंधे, पीठ, गर्दन, गाल ,आंखें, माथे कहीं पर भी किस कर लेता है और इसी तरह से किस करते हुए वो 
  • उसे बोलकर अपनी बात समझता है और तब ही श्रेया को उसकी बात समझ भी आती है।
  • पिछले 8 महीनों में उनका रिश्ता भी बहुत आगे आ चुका है और अब वह दोनों अपनी शादीशुदा लाइफ में बहुत ही खुश पति-पत्नी
  •  है, जिनकी लाइफ में फिलहाल किसी की भी कोई दखलंदाजी नहीं है क्योंकि वह दोनों एकदम ही अकेले रहते हैं और साथ ही दोनों
  •  अपने-अपने काम में बिजी रहते जिसमें वह दोनों ही एक दूसरे को सपोर्ट करते हैं लेकिन काम के अलावा जितना भी उन्हें वक्त
  •  मिलता है वह सब वह एक दूसरे के साथ ही स्पेंड करते हैं और श्रेया हमेशा इस तरह का कोई ना कोई एफर्ट करती रहती है क्योंकि
  •  उसे पता है विक्रम की लाइफ में फैमिली प्यार सारी चीजों की ही बहुत 
  • कमी है और वह काफी टाइम से अकेला रहा है इसलिए वह उसे स्पेशल फील करवाने का कोई भी मौका नहीं छोड़ती।
  • इसके अलावा शादी के बाद से यह विक्रम का पहला बर्थडे है तो बस श्रेया उसे स्पेशल बनाने के लिए खुद ही अपने हाथों से 
  • उसका केक बनाना चाहती थी लेकिन फिलहाल उसने किचन को ही जंग का मैदान बनाया हुआ है .
  • श्रेया मुंह बनाकर विक्रम की बात का जवाब देती हुई बोली,
  •  "बट ये केक मुझसे बना क्यों नहीं, मैंने तो वीडियो देखकर सारे स्टेप्स अच्छे से फॉलो किए थे फिर भी..."
  • श्रेया को इस तरह से शिकायत करते देखा विक्रम ने उसके गाल
  •  पर अपना हाथ रख कर कहा, "कोई बात नहीं, नहीं
  •  बना तो... फर्स्ट टाइम में वैसे भी कुछ परफेक्ट नहीं होता है लेकिन तुमने इतना
  •  एफर्ट किया ना मेरे लिए वही बहुत बड़ी बात है, बट अभी हमें पहले तो ये सब क्लीन करना होगा, चलो मैं हेल्प करता हूं
  •  क्योंकि मेड तो अब कल ही आएगी और जब तक तो यह ऐसे नहीं रहने दे सकते ना?"
  • विक्रम के हेल्प करने की बात सुनकर श्रेया की आंखों में चमक
  •  आ गई क्योंकि किचन इतना ज्यादा बिखरा हुआ था और वहां सारा सामान भी ऐसे फैला था कि श्रेया को अगर अकेले साफ 
  • करना पड़ जाता तो वह तो रोने ही लगती जबकि वह सब कुछ उसने खुद ही फैला कर रखा हुआ है।
  • विक्रम यह बात जानता है कि श्रेया को घर के काम करना ज़्यादा
  •  पसंद नहीं है इसीलिए वह हमेशा ही जब भी मौका मिलता है उसकी हेल्प करवाता है और इससे श्रेया भी बहुत खुश हो जाती है 
  • और उन दोनों को ज्यादा टाइम साथ में स्पेंड करने का भी मौका मिलता है।
  • उन दोनों ने साथ मिलकर वह सब कुछ साफ किया और उसके बाद नहा धोकर रेडी हो गए और फिर विक्रम श्रेया का हाथ 
  • पकड़ते हुए बोला, "चलो, अब बाहर डिनर के लिए चलते हैं काफी टाइम हो गया ना?"
  • "हां, एक हफ्ता हो गया... पिछले हफ्ते गए थे हम उसके बाद से तो कितने दिन हो गए ना लेकिन आज हम आपकी फेवरेट रेस्टोरेंट
  •  चलेंगे क्योंकि आप हमेशा ही मेरी फेवरेट जगह पर चलते हो लेकिन कल आपका बर्थडे है तो इस बार आपका फेवरेट प्लेस..." 
  • - श्रेया ने विक्रम की तरफ देखते हुए कहा तो विक्रम तुरंत ही उसकी बात
  •  मान गया और फिर वह दोनों एक साथ ही वहां से निकल गए विक्रम ने अपार्टमेंट लॉक किया और वहां से वह दोनों बिल्डिंग के 
  • पार्किंग एरिया में आ गए रास्ते में विक्रम ने अपने फेवरेट होटल में
  •  दोनों के लिए सीट बुक कर लिया और कुछ ही देर में वह दोनों वहां पहुंच गए।
  • उसी दिन,
  • रात के 10:00 बजे का वक्त;
  • शेखावत मैनसन,
  • सबके साथ डिनर करने के बाद अभिषेक वहां से चला गया है लेकिन संजना वहां पर ही रुक गई है क्योंकि अपने फाइनल
  •  प्रोजेक्ट्स की वजह से वो काफी टाइम से मायके नहीं आ पाई थी इसलिए आज जब वो आई तो उसका जाने का मन नहीं 
  • हुआ और राइमा ने भी उसे रोक लिया क्योंकि संजना के साथ उसे काफी अच्छा फील हो रहा था।
  • अभी कुछ देर पहले ही पूरी फैमिली के साथ डिनर करके आपस में बातें करती हुई संजना, राइमा और साइना तीनों वहां पर 
  • ही बैठी हुई है, साइना की गोद में ही सावी भी है जो कि अपना अंगूठा चूसते हुए बहुत ही आराम से सो रही है।
  • वह दोनों संजना से उस के फैशन शो के बारे में पूछता
  •  हुई बातें कर रही है तब ही डोर बेल रिंग हुई और वह सब एक दूसरे के चेहरे की तरफ देखने लगी।
  • "इस वक्त कौन हो सकता है?" - डोर बेल की आवाज सुनकर संजना एकदम से बोली
  • राइमा ने उसे छेड़ते हुए कहा, "अभिषेक भैया, वापस तो नहीं आ गए कहीं तुझे लेने, क्या पता तेरे बिना दिल न लग रहा हो उनका..."
  • राइमा की यह बात सुनकर साइना हल्का सा मुस्कुराए 
  • जबकि संजना ने उसके कंधे पर हल्के से हिट किया और बोली, "कुछ भी बोलती हो राइमा तुम..."
  • तभी डोर बेल फिर से रिंग हुई और संजना, साइना, राइमा तीनों 
  • ने दरवाजे की तरफ देखा और साइना ने राइमा से दरवाजा खोलने के लिए कहा तो राइमा अपनी जगह से उठकर दरवाजे की तरफ 
  • बढ़ी लेकिन उसे थोड़ा अजीब लगा कि आखिर कोई भी नौकर अब तक दरवाजा खोलने के लिए क्यों नहीं आया और अपने मन में 
  • यह बात सोचते हुए वह दरवाजे तक पहुंची और उसने जब दरवाजा खोला तो उसे वहां पर कोई भी नजर नहीं आया।
  • तभी हाॅल से साइना की आवाज आई, "कौन है राइमा?" 
  • "कोई भी नहीं है दी यहां पर तो, पता नहीं डोर बेल किसने..." - खुले दरवाजे के ही सामने खड़े हुए राइमा ने पीछे मुड़कर साइना
  •  की तरफ देखते हुए इस बात का जवाब दिया लेकिन वह आगे कुछ भी बोल पाती तभी उसे किसी ने पीछे से बैक हग कर लिया और 
  • पीछे से ही अपने चेहरे को उसकी गर्दन और कान के एकदम नजदीक लाते हुए बोला, "कोई तो है जरा ध्यान से देखो..."
  • अपने कान के एकदम नजदीक से आई हुई यह आवाज सुनकर
  •  राइमा सदमे से अपनी जगह पर एकदम ही जम गई और उसे अपने गानों पर यकीन ही नहीं हुआ कि उसने सच में वह आवाज सुनी
  •  और तभी फिर से उसके कानों में वही आवाज गूंजी, "आई मिस यू सो मच रिमी!"
  • राइमा उस आवाज को बहुत ही अच्छी तरह से पहचानती है और
  •  वो आवाज सुनकर उसके कानों को जो सुकून मिला 
  • है वह सिर्फ वही महसूस कर सकती है और उसे वह किसी के सामने एक्सप्लेन नहीं
  •  कर पाएगी क्योंकि उसकी आंखों में आंसू आ गए और उसने तुरंत ही पीछे मुड़कर देखा तो आर्यन मुस्कुराता हुआ उसके सामने खड़ा
  •  था और उसे अपने सामने देख कर बिना कुछ सोचे समझे राइमा तुरंत ही उसके गले से लग गई और उसे कसकर पकड़ लिया,
  •  राइमा की कमर पीठ पर अपना हाथ रखते हुए आर्यन ने भी वहीं दरवाजे पर ही खड़े हुए उसे पूरी तरह से अपनी बाहों में भर लिया।
  • To Be Continued...
  • हां तो ये एपिसोड एडिट कर दिया है और कैसा लगा आप लोगों को आज का एपिसोड हमारे विक्रम श्रेया का रोमांस और फाइनली
  •  आर्यन राइमा भी एक दूसरे से मेरे लिए तो अब आगे क्या होने वाला है कि जानने के लिए साथ जुड़कर पढ़ते रहिए स्टोरी को और
  •  साथ में कमेंट करिए रिव्यू दीजिए और हिस्टोरिकल
  •  ज्यादा से ज्यादा शेयर भी करिए जिससे कि इस पर ज्यादा रीडर आए क्योंकि 
  • अगर यह स्टोरी भी रिजेक्ट हो गई तो फिर आप लोगों को सीजन 2 कभी पढ़ने को नहीं मिल पाएगा जो की बहुत ही इंटरेस्टिंग है।

  • Chapter 4 - Aaryan is Back with Paakhi

  • आर्यन और राइमा दोनों अभी भी उसी तरह से गले लगे हुए घर के दरवाजे पर ही खड़े हैं आर्यन आज इतने दिनों के बाद राइमा से
  •  मिलकर बहुत ही ज्यादा खुश है और उसके चेहरे पर एक प्यारी सी मुस्कुराहट है लेकिन दूसरी तरफ राइमा की आंखों में आंसू भर 
  • आए हैं और वह बहुत ही ज्यादा इमोशनल है क्योंकि वह आर्यन को बहुत ही ज्यादा मिस कर रही थी।
  •  पिछले दो-तीन दिनों से उन दोनों की कॉल पर भी बात नहीं हुई तो वह काफी टेंशन में थी और उसे बिल्कुल भी उम्मीद नहीं थी
  •  कि इस तरह से आर्यन अचानक उसके सामने आ जाएगा और उसे तो 
  • जैसे अभी भी यकीन नहीं हो रहा कि सच में वहां
  •  आर्यन उसके सामने दरवाजे पर था और वह अभी उसके ही गले लगा कर खड़ी हुई है।
  • राइमा के गले लगे हुए उसके अंदर चल रहे सारे इमोशन और फीलिंग आर्यन भी महसूस कर पा रहा है इसलिए उसने भी कुछ
  •  नहीं कहा और चुपचाप से उसे गले लगा कर खड़ा रहा लेकिन फिर जब उसे अपने शोल्डर पर शर्ट का एक हिस्सा गीला महसूस हुआ
  •  तो वह समझ गया कि जरूर राइमा रो रही है तो वो हल्का सा पीछे हुआ और उसने राइमा के गाल पर हाथ रखते हुए उसके चेहरे की
  •  तरफ ध्यान से देखा... वह सच में रो रही थी और उसकी आंखों से आंसू निकल कर उसके गाल पर लुढ़क रहे थे और उसने अपना
  •  चेहरा आर्यन के कंधे से टिकाया हुआ था इसलिए उसकी शर्ट भी गीली हो गई थी!
  • उसकी आंखों से निकलते हुए आंसुओं को आर्यन ने अपने हाथों से पोंछते हुए उसकी आंखों में देखकर कहा, "रिमी तुम... तुम रो
  •  क्यों रही हो, मैंने तै सोचा था मैं ऐसे तुम्हें सरप्राइज दूंगा एकदम अचानक से सामने आकर तो तुम खुश हो जाओगी बिल्कुल मेरी 
  • तरह... देखो मैं तो इतना खुश हूं तुम्हें सामने देखकर और तुम हो कि ऐसे रो रही हो जैसे कि..."
  • राइमा गुस्से में उसके कंधे पर मारते हुए बोली, "शट अप यू स्टुपिड, इडियट... डफर शेखावत और अपने पास ही
  •  रखो तुम्हारा यह स्टुपिड सरप्राइज़, बात क्यों नहीं कि तुमने मुझसे...
  •  पिछले तीन दिनों से मेरे कॉल इग्नोर कर रहे हो तुम्हें पता है मेरी क्या हालत थी।"
  • इतना बोलते हुए इस तरह से रोती हुई राइमा लगातार आर्यन के कंधे पर उसे हिट करने लगी और उसके इस तरह से मारने पर
  •  आर्यन भी अपने कंधे पर हाथ रखकर पीछे 
  • होते हुए बोला, "आउच! क्या कर रही हो रिमी, इस तरह से कोई वेलकम करता है क्या
  •  अपने हस्बैंड का, एक तो मैं सिक्स मंथ बाद वापस घर आया हूं और तुम हो कि...
  • राइमा को अच्छी तरह से पता है कि आर्यन चोट लगने का नाटक
  •  करते हुए यह सब बोल रहा है इसलिए उसका
  •  गुस्सा और भी ज्यादा बढ़ गया और वह गुस्से में उस पर चिल्लाती हुई बोली, "हां तो क्यों
  •  वापस आए हो, कौन सा मैंने तुम्हें बुलाया है जाओ नाष जहां पर थे इतने दिनों से तुम्हें तो वैसे भी वापस आने का मन नहीं..."
  • राइमा अपनी बात पूरी कर पाती उससे पहले ही उसकी नजर आर्यन के पीछे खड़ी एक लड़की पर पड़ी जिसकी बड़ी बड़ी सी
  •  गहरी भूरी आंखें और प्यारा मासूम सा चेहरा है और वो काफी कंफ्यूजन से उन दोनों की तरफ ही देख रही है।
  • उस लड़की ने ग्रे कलर की वाइड लेंथ जींस के साथ ऊपर डार्क ब्राउन कलर की ओवर साइज हूडी पहनी हुई है और बालों का
  •  हाफ बन बनाकर बाकी बालों को उसने खुला छोड़ा हुआ है इसके अलावा ना ही उसके पूरे शरीर पर कोई एसेसरी है और ना ही
  •  चेहरे पर मेकअप, हां पैरों में ऑफ व्हाइट कलर के स्नीकर्स हैं और 
  • उसने बैग का हैंडल अपने हाथों में पकड़ा हुआ है और एक बैग उसके शोल्डर पर भी है।
  • राइमा ने जैसे ही आर्यन के पीछे खड़ी उसे लड़की को देखा वह
  •  आर्यन को साइड करते हुए आगे आई और बोली, "तुम... तुम पाखी हो ना, आओ... अंदर आओ ऐसे दरवाजे पर क्यों खड़ी हो?"
  • "तुम किसी को अंदर आने दो तब ना, अपना सारा गुस्सा प्यार
  •  सब कुछ यही दरवाजे पर ही दिखा दे रही हो..." - राइमा की बात सुनकर आर्यन धीमी आवाज में ही बोला तो यह बात सुनकर 
  • राइमा ने आर्यन को घूर कर देखा तो अपने मुंह पर उंगली रखते हुए वो एकदम चुप हो गया।
  • राइमा ने आगे बढ़कर पाखी का हाथ पकड़ा तो पाखी उसकी 
  • तरफ देखकर मुस्कुराते हुए बोली, "साॅरी, लेकिन मैं आप दोनों को देख रही थी सच में कितने क्यूट लगते हो आप दोनों साथ में..."
  • उसके इस कंप्लीमेंट पर राइमा हल्का सा मुस्कुराई।
  • आर्यन अब तक वहां से अंदर की तरफ बढ़ गया है और राइमा भी
  •  बाकी को लेकर घर के अंदर ही आ रही है तभी उसने पाखी का सामान नोटिस किया तो रुक कर उस से बोली, "अरे यह सामान. ‌
  •  तुम सामान ड्राइवर को बोल देती अंदर लाने को इस तरह से खुद क्यों उठाया हुआ है तुमने ये सब..."
  • पाखी ने उसकी बात का जवाब दिया, "अरे नहीं, ठीक है और वैसे भी मुझे अपना सारा काम खुद ही करने की आदत है तो..."
  • जब तक पीछे से साइना की आवाज आई, "राइमा, कहां रह गई और कौन है दरवाजे पर, किससे बातें कर रही हो?"
  • "दी मैं वो बस..." - राइमा हाॅल की तरफ आते हुए बोली लेकिन
  •  आर्यन उससे पहले ही वहां पर पहुंच गया और उसने साइना के सामने आते हुए कहा, "मैं हूं भाभी और इसीलिए शायद थोड़ा
  •  सदमा लगा है आपकी बहन को, उस से ही बाहर निकालने की कोशिश कर रही है, डोंट वरी! थोड़ी देर में ठीक हो जाएगी।"
  • आर्यन ने हंसते हुए वह बात बोली और फिर आगे बढ़कर साइना 
  • की गोद से सावी को अपनी गोद में ले लिया और वह अभी भी सो रही थी तो बहुत ही हल्के से उसके गाल टच करते हुए बोला, "मेरी
  •  एंजेल तो कितनी बड़ी हो गई, मैंने कितना कुछ मिस कर दिया भाभी! इन 6 मंथ्स में..."
  • इतना बोलते हुए आर्यन ने फिर से बहुत ही प्यार से अपनी गोद में ली हुई सावी के गाल को छुआ।
  • साइना ने उसकी बात पर हल्का सा मुस्कुराया और फिर अपनी
  •  जगह से उठकर वह अपनी तरफ आती हुई राइमा और पाखी की तरफ बढ़ी, उन सबको पाखी के बारे में पता है। संजना भी उसके
  •  साथ है लेकिन वो उठकर पहले आर्यन के गले लगी और उसे वहां पर वापस देखकर वह बहुत ही खुश है।
  • संजना को वहां देखकर आर्यन बोला, "अरे तू भी यहां पर है, मेरे वेलकम के लिए आई है क्या?" 
  • आर्यन अपनी गोद में सावी को लेकर आराम से वहां 
  • सोफा पर ही बैठ गया और तभी आर्यन के मम्मी पापा भी उसकी आवाज सुनकर वहां पर आए।
  •  आर्यन उन सभी लोगों को सरप्राइज दिया था वह किसी को भी बात कर नहीं आया सिर्फ राजवीर को ही इस बारे में पता था कि
  •  आर्यन आज वापस आने वाला है लेकिन उसे भी एयरपोर्ट आकर उसे रिसीव करने के लिए आर्यन ने मना कर दिया था और अभी
  •  राजवीर ऊपर अपने रूम में है उसे अभी तक आर्यन के आने के बारे में पता नहीं चला है।
  • संजना साइना दोनों ही राइमा के साथ अंदर आई हुई बाकी की तरफ आई।
  • पाखी ने उन सभी को मुस्कुरा कर हेलो बोला और फिर जैसे ही
  •  उसने आर्यन के मम्मी पापा को वहां पर आते हुए देखा वह आ गया है और उसने झुक कर उन दोनों के पैर छूकर आशीर्वाद लिया
  •  आर्यन की मम्मी ने उसके सिर पर हाथ रखते हुए कहा, "खुश रहो बेटा! कैसी हो और कोई प्रॉब्लम तो नहीं है ना?"
  • अपनी मम्मी की बात सुनकर पीछे बैठा आर्यन उनकी बात का जवाब देता हुआ बोला, "अरे मम्मी! जितनी भी प्रॉब्लम थी ना
  •  वह सब आपके काबिल बेटे ने सॉल्व कर दी है सो प्लीज डोंट वरी, अभी पाखी की लाइफ एकदम सॉर्टेड है।"
  • आर्यन की बात सुनकर सभी उसकी तरफ देखने लगे जबकि 
  • आर्यन की मां पाखी से बात करने की कोशिश करते हुए यह सब बोल रही थी क्योंकि पाखी के लिए वह सारे लोग और वहां का माहौल 
  • नया है इसीलिए बस वह उसे कंफर्टेबल करने की कोशिश कर रही थी।
  •  आज से पहले पापा की लगभग 4 या 5 साल पहले ही वहां पर आई थी, अपने लंदन जाने से भी काफी पहले ही अपनी 
  • मां के साथ लेकिन अब उसकी लाइफ में सब कुछ बदल गया है उसकी मां की डेथ के बाद से 
  • आर्यन के इस तरह से बीच में बोलने पर पाखी और कोई भी कुछ बोल नहीं पाया तो राइमा उसकी तरफ आते हुए बोली, "
  • चुप करो तुम आर्यन! किसी और को बोलने का भी मौका दे दिया करो कभी..."
  • "अरे तुम मुझे क्यों डांट रही हो और इस तरह से मेरा सरप्राइज देकर आना तुम्हें बिल्कुल भी पसंद नहीं आया क्या, ज़रा सी भी
  •  खुश नहीं हुई तुम मुझे देखकर और अब ऐसे बोल रही हो?" - आर्यन ने बच्चों की तरह मुंह बनाते हुए कहा लेकिन उसका तो
  •  यह हमेशा का ही है इसलिए किसी ने भी उस पर ध्यान नहीं दिया और राइमा ने उसे नोटिस करके बस बेबसी से अपना सिर हिलाया।
  • "आओ पाखी... हमारे साथ यहां पर आकर बैठो और बताओ हम सबको कुछ अपने बारे में..." - राइमा ने उसका हाथ
  •  पकड़ कर उसे अपने साथ वहां सोफे पर बिठाते हुए कहा तो पाखी राइमा का मुंह देखने लगी।
  • "हां, तुम लोग बातें करो मैं इन दोनों के लिए खाना
  •  गरम करवाती हूं, दोनों भूखे होंगे ना..." - इतना बोलते हुए आर्यन की मां वहां से उठी और किचन की तरफ चली गई।
  • पाखी उन लोगों से बात करने लगी और तभी संजना ने उसे अपने
  •  फैशन शो के बारे में बताया तो पाखी थोड़ा सा एक्साइटेड हो गए और उसने कहा, "वाओ! तो क्या मुझे तुम्हारे फैशन शो 
  • का वी आई पी पास मिलेगा, मैं सच में उसे करीब से देखना चाहती हूं इससे मुझे काफी हेल्प मिलेगी।"
  • "फैशन शो से तुम्हें क्या हेल्प मिलेगी पाखी? तुम तो फिल्म मेकिंग का कोर्स कर रही थी ना वहां लंदन में और साथ ही
  •  शायद कुछ और भी..." - साइना ने थोड़ा सा कंफ्यूज होते हुए पूछा
  • पाखी अब तक साइना और राइमा के साथ काफी कंफर्टेबल हो
  •  गए और संजना को तो वह पहले से ही जानती है क्योंकि संजना और वह दोनों कज़िन हैं, पाखी संजना की दूर की मासी की बेटी है
  •  यानी कि वह वीना जी की कजिन बहन की बेटी है इसलिए वह संजना आर्यन और राजवीर की भी कजिन हुई।
  • पाखी ने साइना की बात का जवाब देते हुए कहा, "हां भाभी!
  •  एक्चुअली मैंने काफी सारे कोर्स किए हैं और फिल्म मेकिंग का भी ऑप्शन था तो मैंने वो कर लिया लेकिन असल में मैं होटल 
  • मैनेजमेंट और इवेंट ऑर्गेनाइजेशन का भी कोर्स किया 
  • है क्योंकि मुझे इसी तरह के क्रिएटिव फ़ील्ड में ही काम करना पसंद है और इनमें से
  •  कहीं भी एक मौका मिल जाए मुझे बस इसीलिए मैं उस फैशन शो में जाना चाहती हूं जिससे यहां की चीज समझ पाऊं क्योंकि जहां
  •  तक मुझे पता है लंदन और इंडिया की इन सारी चीजों में काफी फर्क होता है तो बस एक्सपीरियंस के लिए..."
  • "वाओ पाखी! तुमने तो कितने सारे कोर्स किए हैं और मुझे देखो बिजनेस स्टडीज के अलावा कभी कुछ किया ही नहीं...
  • " - राइमा उ,से इंप्रेस होती हुई बोली क्योंकि वह लगभग उसकी ही एज की थी।
  • "हां, मैंने भी एक कोर्स ही किया है उससे ज्यादा तो हैंडल भी ना होता हम मुझे यही इतनी मुश्किल से क्लियर हुआ है और अब
  •  पहला शो है तो बहुत डर भी लग रहा है लेकिन वीआईपी पास की
  •  टेंशन मत लो तुम, वो पूरी फैमिली के साथ तो मैं भी मिल जाएगा आखिर अब तुम भी तो हमारी फैमिली हो ना.." 
  • - संजना ने बहुत ही अपनेपन से उसे पूरी बात बताते हुए कहा तो पाखी ने भी मुस्कुरा कर उसकी तरफ देखा
  • पाखी अपनी मां और पापा के साथ पहले दिल्ली में
  •  ही रहती थी लेकिन 3 साल पहले वो अपने कोर्स के लिए स्कॉलरशिप पर लंदन गई थी।
  • वह लंदन में ही थी जब उसे पता चला कि उसके पापा ने पैसों के
  •  लिए एक अमीर औरत से शादी कर लिया और उसकी मां पर चीट किया है और साथ ही उन्हें घर से भी निकाल दिया।
  •  जिसकी वजह से उसकी मां को हार्ट अटैक आ गया और वह अस्पताल में एडमिट थी यह बात पता चलते ही पाखी तुरंत ही
  •  इंडिया वापस आ गई थी और तब से उसे अपने पापा से नफरत हो
  •  गई क्योंकि उनके धोखे की वजह से ही एक हफ्ते बाद ही उसकी मां की डेथ हो गई थी।
  • इसके बाद पाखी पूरी तरह से एक दम अकेली पड़ गई लेकिन वहां
  •  हॉस्पिटल में जब शेखावत फैमिली उसकी मां 
  • को देखने और उनकी डेथ पर आई थी, तब वीना जी ने बाकी से कहा था कि वह लोग
  •  हमेशा ही उसके लिए वहां पर रहेंगे और इसीलिए जब लंदन में पाखी को वीजा की प्रॉब्लम हुई और बीच में कोर्स छोड़ कर आने
  •  की वजह से कॉलेज वाले उसे दोबारा एडमिशन 
  • नहीं दे रहे थे तो इन सब के लिए उसने सीधा राजवीर के पास ही फोन किया और इसी
  •  बीच आर्यन को भी लंदन से उसकी ग्रेजुएशन सेरेमनी सर्टिफिकेट्स और बाकी सारी चीजों के लिए कॉल आया था तो राजवीर ने उसे
  •  पाखी का मैटर सॉल्व करने के लिए भी वहां पर भेज दिया और इन सब की वजह से ही आर्यन को 6 महीने वहां पर रुकना पड़ा वह
  •  अपनी शादी के 1 हफ्ते बाद से ही वो वहां चला गया था और तब से वह पाखी को साथ लेकर अब वापस आया है।
  • To Be Continued...
  • तो कैसी लगी आप सब को हमारी प्यारी झल्ली सी पाखी, वह बहुत ही इंटेलिजेंट और प्यारी सी लड़की है, आगे आप लोगों को उसके
  •  और भी छुपे हुए टैलेंट पता चलेंगे और स्टोरी में भी उसका बहुत इंपॉर्टेंट रोल होने वाला है वैसे किस-किस को हमदर्दी हुई पाखी के
  •  साथ उसकी बैक स्टोरी पता चलने के बाद? बताइए कमेंट में और जितने भी लोगों ने सिर्फ फाइव स्टार रिव्यू दिया है हम लोगों से
  •  कहना चाहेंगे कि प्लीज अच्छा सा रिव्यू लिखिए नहीं तो हम फिर एपिसोड डेली अपलोड नहीं करेंगे आप लोगों को स्टडी पढ़नी है
  •  ना तो इसीलिए रिव्यू भी अच्छा दीजिए जैसे आपको स्टोरी लग रही है वैसा ही...

Previous Post Next Post